Remix education
pharmacy

what is Pharm D

Pharm D full form:- doctor of pharmacy

डॉक्टर ओफ़ फार्मेसी (Pharm D) कोर्स, एक 6 years का डॉक्टरेट स्तर corce है, जिसमें अकादमिक अध्ययन के पांच साल और इंटर्नशिप या निवास का एक वर्ष शामिल है| डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी (Pharma D) कोर्स के पाठ्यक्रम का लक्ष्य रोगी दवा (medicine) चिकित्सा के प्रबंधन में और उम्मीदवारों के रोग (disease) में सुधार के योग्य उम्मीदवारों को तैयार करना है| हम यहां पर डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी (Pharm D) कोर्स प्रक्रिया, योग्यता, अवधि, करियर और वेतन, आदि की पूरी प्रक्रिया का विश्लेषण करेंगे|

डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी (Pharm D) कोर्स की पेशकश करने वाले Top institute हैं,

(1). मणिपाल University ऑफ फार्मास्युटिकल साइंस
(2). जेएसएस college ऑफ फार्मेसी
(3). पाउना college ऑफ फार्मेसी
(4). केएलई college ऑफ फार्मेसी
पाठ्यक्रम के लिए आवेदन करने के लिए मूल योग्यता मानदंड एक मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10+2 या समकक्ष योग्यता है. और किसी भी फार्मा से फार्मेसी में एक योग्य डिप्लोमा है| फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया (पीसीआई) द्वारा मान्यता प्राप्त डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी कॉलेज, भारत में पाठ्यक्रम के लिए चार्ज किया गया औसत शुल्क 6 से 20 लाख के बीच है, जो संस्थानों में भिन्न होता है, और विभिन्न संस्थान स्कोर स्वीकार करते हैं|
पाठ्यक्रम को सफलतापूर्वक पूरा करने पर, स्नातकोत्तर दोनों निजी और सरकारी अस्पतालों में आकर्षक रूप से नियोजित होते हैं, या अपनी खुद की फार्मेसी खोलते हैं| ऐसे स्नातकोत्तर को दी जाने वाली औसत प्रारंभिक वार्षिक वेतन उम्मीदवार के कौशल के आधार पर 3 से 10 लाख के बीच होती है|
डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी कोर्स के महत्वपूर्ण (Important of D.Pharm Courses)
पाठ्यक्रम से संबंधित कुछ प्रमुख विशेषताएं निचे दी गई हैं-
• पाठ्यक्रम स्तर- डॉक्टरेट (doctor)
• अवधि- 6 years
• पात्रता- एक मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10 + 2
• प्रवेश प्रक्रिया (entrance exam)- प्रवेश परीक्षा लेने के बाद परामर्श
• types of exam- सेमेस्टर सिस्टम
• औसत प्रारंभिक वेतन ( salary)– 3 से 10 लाख रुपये
शीर्ष भर्ती क्षेत्रों- स्वास्थ्य केंद्र, ड्रग कंट्रोल एडमिनिस्ट्रेशन (drug control administration), मेडिकल डिस्पेंसिंग स्टोर (medical dispensing Store) इत्यादि|

डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी के बारे में (About the Pharm D)

डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी (pharm D) दवाओं (medicine)की तैयारी और वितरण की कला और विज्ञान है| पाठ्यक्रम नैदानिक फार्मेसी, pharmacy अभ्यास और दवा देखभाल में योग्य उम्मीदवारों को प्रशिक्षित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है| पाठ्यक्रम के सफल समापन पर, students को रोगों के रोग, चयन और चिकित्सकीय उपयोग, रोगियों की निगरानी आदि, के निदान और उपचार में कौशल प्राप्त होता है|
डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी (Pharm D) एक लैटिन (latin word) शब्द है, जिसका अर्थ है, फार्मासी डॉक्टर (pharmacy doctor), यह फार्मेसी अधिनियम, 1948 के तहत एक पंजीकृत योग्यता है| पाठ्यक्रम फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया (pci), भारत में फार्मेसी शिक्षा के लिए नियामक निकाय द्वारा पेश किया गया था| पाठ्यक्रम आमतौर पर उन छात्रों के लिए होता है, जो नैदानिक शोध से संबंधित (research and development) अवधारणाओं को सीखने में रुचि रखते हैं, और pharmacy अभ्यास अवधारणाओं की गहन समझ प्राप्त करते हैं|

डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी योग्यता (Pharm D Eligibility)

Pharm D कोर्स करने में रुचि रखने वाले अभ्यर्थियों को निम्नलिखित न्यूनतम पात्रता मानदंडों को पूरा करने की आवश्यकता है,
(1). एक मान्यता प्राप्त शैक्षिक बोर्ड से उच्च और वरिष्ठ माध्यमिक स्तर (कक्षा 10 वीं और 12 वीं) दोनों में 55% का न्यूनतम कुल स्कोर (total score)|
(2). साथ ही, maths vale student ko उम्मीदवारों को पीसीएम (PCM) भौतिकी (physics), रसायन विज्ञान (chemistry), गणित (maths) या पीसीबी (PCB) भौतिकी (physics), रसायन विज्ञान (chemistry), जीवविज्ञान (biology) में न्यूनतम 60% के न्यूनतम स्कोर के साथ विज्ञान धारा में वरिष्ठ माध्यमिक स्तर (कक्षा 12 वीं) पूरा होना चाहिए|

डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी प्रवेश प्रक्रिया (D. Pharm Admission Process)

पाठ्यक्रम में प्रवेश (entrance) के लिए, पात्र प्रवेशकर्ताओं को सामान्य प्रवेश प्रक्रिया के हिस्से के रूप में राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर किसी भी विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित एक प्रासंगिक प्रवेश परीक्षा (entrance exam) उत्तीर्ण करने की आवश्यकता होती है| इसके बाद, परामर्श प्रक्रिया के हिस्से के रूप में समूह चर्चा और व्यक्तिगत साक्षात्कार के दौर को अर्हता प्राप्त करने के लिए योग्यता प्राप्त उम्मीदवारों की आवश्यकता होती है|
पाठ्यक्रम में प्रवेश (entrance) के लिए भारत में आयोजित प्रमुख प्रवेश परीक्षाओं (entrance exam) में से कुछ इस प्रकार हैं,
(1). जीपीएटी (GPT) (ग्रेजुएट फार्मेसी एटिट्यूड टेस्ट)
(2). यूपी-सीपीएमटी (उत्तर प्रदेश संयुक्त प्री-मेडिकल टेस्ट)
(3). पीएमईटी (पंजाब प्री-मेडिकल प्रवेश परीक्षा)
(4). यूपीएसई फार्मेसी (उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा)

डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी करियर संभावनाएं (Pharm D Career Chances)

फार्मेसी ने औषधीय (medicine) दवाओं और फार्मास्यूटिकल्स (pharmaceutical) के सभी पहलुओं से निपटने वाले विज्ञान की एक स्वतंत्र शाखा के रूप में स्थापित किया है| फार्म डी डिग्री (degree), प्रबंधन, अनुसंधान और प्रशासन, जैसे क्षेत्रों में कई राष्ट्रीय (national)और अंतरराष्ट्रीय (international) नियोक्ता अवसर प्रदान करता है|

कुछ प्रमुख उत्सर्जन क्षेत्र हैं,

(१). विश्वविद्यालय teacher
(२). मेडिसिंस डिस्पेंसिंग
(३). दवाई कंपनी (medicine company)
(४). अस्पताल (हॉस्पिटल)
(५). मताधिकार
(६). स्व नियोजित (प्राइवेट)
www.remixeducation.in

Leave a review